जूते नहीं थे तो बैंडेज बांधकर बनाये 'मज़बूरी वाले जूते', रेस में दौड़ी और जीत लायी 3 गोल्ड मेडल

 | 
riya

कुछ कर गुजरने की ख़्वाहिश हो और फिर उसके लिए लगन हो तो आप तमाम तरह की विषमताओं से होते हुए भी मंजिल तक पहुंच सकते हैं। ऐसा ही कुछ कर दिखाया है, एक 11 वर्षीय लड़की ने। जो अब सोशल मीडिया सनसनी बन चुकी है और उसने दुनिया भर के एथलीटों को हैरान कर दिया है। कुछ लोग उसके लिए दुआएं मांग रहे है तो कुछ लोग लड़की की मदद के लिए आगे आ रहे है। 

भारत में भी इस लड़की को "भारत की बेटी" बताकर जमकर वायरल किया जा रहा है। लेकिन इसकी सच्चाई कुछ और है। क्या सच्चाई है? ये भी हम बताएंगे लेकिन उससे पहले देखिये किसने क्या-कहा?

पैरों में टेप लगाकर भागी और 3 गोल्ड मेडल ले आई

riya

तस्वीर में दिख रही बच्ची ने पैरों में पट्टी बांध रखी है। लड़की ने पैरो को इस तरह बाँधा है कि जूते का आकार नजर आया। लेकिन इस पट्टी पर कुछ ऐसा भी दिखा, जिसने सोशल मीडिया यूजर्स का ध्यान अपनी तरफ खिंचा। और बह था जूता बनाने वाली कंपनी का नाम (Nike) का लोगो। जो सायद लड़की ने अपनी कलम से लिखा होगा। 

लेकिन इन सबके बीच भारत व देश-विदेश के सोशल मीडिया पर इस बात की तारीफ हो रही है कि लड़की का जज्बा देखिये, क्या शानदार मिशाल पेस की है। इस खबर के साथ बच्ची की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई तो उसकी तारीफ करने लोग उमड़ पड़े। 


डॉ रोहित सक्सेना नाम के यूजर ने लिखा, "बताओ इस बेटी के हौसले को हराने का दम किसमें है?

आम लोगों के साथ-साथ चर्चित यूजर्स ने भी बच्ची की तस्वीर को शेयर किया है। इसमें सबसे बड़ा नाम पूर्व क्रिकेटर हरभजन सिंह का भी नाम है। उन्होंने तस्वीर शेयर करते हुए लिखा:- 

"क्या कोई मुझे हमारी इस बेटी के बारे में जानकारी दे सकता है… मैं इसकी शिक्षा और खेल का खर्च उठाऊंगा।"


"एक और यूजर रयान ने लिखा, हौसला हो तो क्या कुछ नहीं हो सकता। एक 11 साल की लड़की है। इसके पास रेस में दौड़ने के लिए जूते नहीं थे तो इसने अपने पैरों पर टेप से जूतो का डिज़ाइन बनाया और उस पर, Nike जो कि जूते बनाने वाली एक बहुत बड़ी कंपनी है, लिख दिया। आपको जानकर हैरानी होगी कि ये लड़की इन्हीं टेप वाले जूतो से दौड़कर 3 गोल्ड मेडल जीत गई।"

इस बच्ची का भारत से नहीं है ताल्लुक 

जी हां, आपने हेडिंग बिलकुल सही पढ़ी है। वायरल तस्वीर बाली लड़की का भारत से कोई संबंध नहीं है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, ये वायरल लड़की भारत की नहीं फिलिपींस है। तो समझे आप जिस लड़की को लोग भारत की बेटी बता रहे है, बह फिलिपींस की बेटी है। 

riya

और इस तस्वीर भी 2 साल पुरानी है। बच्ची की बास्केटबॉल टीम के हेड कोच ने उसकी ये तस्वीर सोशल मीडिया पर डाल बताया था कि उसका नाम रिया बुलोस है, और बह ट्रैक एथलीट हैं। 

'मज़बूरी वाले जूते' पहन जीते तीन गोल्ड मेडल 

रिपोर्ट्स के मुताबिक़, Bullos ने Iloilo Schools Sports Council Meet कॉम्पटीशन में 400 मीटर, 800 मीटर और 1500 मीटर की दौड़ में तीन गोल्ड मेडल जीत ली है। मैच जीतने के बाद वह बैठ कर बाकी रेस देख रही थीं तभी लोगों की नजर उनके पैर पर पड़ी। जिस जूते की सहायता से वह दौड़ीं वह बैंडेज से बना हुआ था। 

उसने बैंडेज से ही पैरों को कवर कर लिया और उस पर Nike का नाम लिखा और लोगो भी बना दिया। जूते ना होने के बावजूद भी रिया ने तीन गोल्ड जीतकर अपने देश और देश बासियो का मनोबल बढ़ाया। आपको बता दे,रिया की कहानी सामने लाकर कोच ने मदद की अपील की, जिसके बाद लोग मदद के लिए आगे भी आए थे।