अनोखा शिवभक्त: खुद को शिव तो बाइक को बनाया नंदी, सेल्फी लेने बालो की लगी होड़... वायरल वीडियो!

 | 
bike shiv bhakt

सावन के महीने में कांवड़ यात्रा (Kanwar Yatra) को लेकर मंदिरों से लेकर सड़कों तक भक्तिमय माहौल देखने को खूब मिल रहा है। जगह-जगह शिवभक्त कांवड़ियों का स्वागत किया गया जा रहा है। इसी कड़ी में काशी में एक शिवभक्त का अनोखा रूप देखने को मिला। विश्वनाथ की नगरी काशी में एक शिवभक्त ने खुद को शिव के रूप में और अपने दोपहिया को नंदी की शक्ल दी है। जिसके बाद सेल्फी लेने बालो की होड़ लग गई। क्या है पूरा मामला? चलिए हम आपको बताते है। 

शिवभक्त खुद बन गया महादेव और बाइक को बनाया नंदी!

सावन का महीना शुरू होते ही भगवान भोले के भक्‍त भी बाबा के रंग में रंगे नजर आते हैं। औघड़दानी भगवान शिव की नगरी में वायरल एक वीडियो और तस्‍वीरों में भोले का एक भक्‍त शिवशंकर का स्‍वांग धरे अपनी बाइक को नंदी के स्‍वरूप में करके फर्राटा भरते और भक्‍तों के साथ कांवड़‍ियों संग सेल्‍फी लेते नजर आया। 

bhola shiv bhakt
Image Source: News18India

भोले के इस अनोखे भक्‍त ने सावन में अनोखा स्‍वांग धरने के लिए हजारों रुपये भी फूंक दिए। मगर जो रौनक बाइक पर बैठकर फर्राटा भरते नजर आई उसे जिसने भी देखा वह चौंक पड़ा। 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सावन के पावन माह में विश्वनाथ की नगरी काशी में शिवभक्त सुनील गुप्ता ने खुद को शिव के रूप में और अपने दोपहिया को नंदी की शक्ल दी है। वे शनिवार को शहर के गोदौलिया इलाके में विश्वनाथ मंदिर के नजदीक पहुंचे। यहां वे अपने साथी कांवड़ियां साथियों के साथ आए थे। 

nandi bike shiv bhakt
Image Source: News18India

यहां हर-हर महादेव और बोल बम का नारा गूंजने लगे, तो पुलिस भी आ गई। जिसके बाद शिव बने श्रद्धालु सुनील ने बताया कि, "वे ऐसा एक साल से कर रहें हैं, और बह  वाराणसी के ग्रामीण इलाके अनइ बाजार के रहने वाले है। वायरल हो रही सूचना के अनुसार पिंडरा निवासी दिनेश कुमार गुप्ता अपनी पान की दुकान चलाते हैं। 

वह भगवान भोले शंकर के भक्‍त हैं तो अपनी अनोखी भक्ति का प्रदर्शन करते हुए अपनी बाइक को मोडीफाई करके उसे नंदी बैल का स्‍वरूप दिया और उसपर खुद भगवान भोले शंकर का स्‍वांग धरकर बाबा का दर्शन पूजन करने के लिए फर्राटा भरते हुए चल दिए।


सुनील गुप्ता ने बताया कि जब तक सांसें चलती रहेंगी, तब तक शिव के रूप में ही बाबा विश्वनाथ के दर्शन करने आते रहेंगे। जब इच्छा करती है तब शिव रूप में आकर विश्वनाथ बाबा के दर्शन करने आ जाते हैं। जब से होश संभाला है- शिव भक्ति में डूब चुके हैं। 

बाइक को नंदी बनाने में आया कितना खर्चा?

सुनील ने बताया कि उनकी पान और परचून की दुकान है. बाबा और नंदी के रूप के लिए उनके 15 हजार रुपए खर्च हो गए, इसके लिए उन्हें उधार तक लेना पड़ा, लेकिन कोई दिक्कत नहीं है। उन्होंने आगे बताया कि जब तक उनकी शक्ति रहेगी, तब तक यूं ही शिव रूप में रहेंगे। इस अनोखे तेवर और कलेवर को देखकर लोग जहां चौंक रहे हैं वहीं दूसरी ओर उनकी तस्‍वीरें और वीडियो भी सोशल मीडिया (इंटरनेट मीडिया) पर खूब वायरल भी हो रहा है। 

सेल्फी लेने बालो की लगी होड़!

जिसने भी भाेले शंकर को इस तरह नंदी बाइक पर फर्राटा भरते देखा तो उसने भी देखते ही हर- हर महादेव का उद्घोष किया और उनके साथ सेल्‍फी लेने का निवेदन करना शुरू कर दिया। बताया कि वह जहां से से भी गुजर रहे हैं लोग उनके साथ सेल्फी भी खूब ले रहे हैं। भोले का स्‍वांग धरे दिनेश भी सेल्‍फी के बाद ही आगे के सफर के लिए रवाना हो सके। वहीं उनके बाइक पर पीछे लहराता तिरंगा भी आकर्षण का केंद्र बना रहा। 

nandi bike shiv bhakt
Image Source: AAJ Tak

आपको बता दे, आम तौर पर काशी में सावन माह में शिव भक्तों और कांवड़ियों का अनोखा रूप दिखता है। लेकिन इस शिवभक्त ने ना सिर्फ शिव का रूप ले रखा था, बल्कि अपने वाहन को भी नंदी का रूप दिया था, जो आकर्षण का केंद्र रहा।