बहादुर लड़की काजल के हत्यारोपी को यूपी पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया

 | 
ssp

काजल का हत्यारा विजय प्रजापति पुलिस मुठभेड़ में मारा गया है। काजल बही बहादुर लड़की है जिसकी पिछले दिनों गोली मारकर हत्या कर दी गई, बो भी इस बात को लेकर कि उसके पिता को कुछ दबंग पीट रहे थे और बह उनका वीडियो बना रही थी। बदमाश विजय प्रजापति पर काजल नामक लड़की के मर्डर का आरोप था। और अब पुलिस एनकाउंटर में बदमाश विजय प्रजापति के मारे जाने की खबर है। 

kajal
Image Source: Social Media

एसपी अरुण कुमार सिंह ने बताया कि पुलिस से घिरता देख अपराधी विजय फायरिंग कर भाग रहा था। जवाबी कार्रवाई में पुलिस की गोली लगने के बाद बदमाश विजय घायल हो गया। जिसके बाद उसे जिला अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। 

कुछ ऐसी है मुठभेड़ कहानी 

ssp arun kumar
अरुण कुमार सिंह, एसपी साउथ (Image Source: Social Media)

एसएसपी अरुण कुमार सिंह बदमाश विजय प्रजापति के पुलिस मुठभेड़ में मारे जाने की पुष्टि करते हुए जानकारी देते हुए बताया, कि:-

''पिछली रात पुलिस ने देर रात तक चेकिंग अभियान चलाया। इस चेकिंग अभियान के बाद पुलिस की टीम जब बदमाश विजय प्रजापति के संभावित ठिकाने पर पहुंची तो उसने पुलिस फायरिंग शुरू कर दी और वहां से भागने लगा। जवाबी कार्रवाई करते हुए पुलिस ने भी गोलियां चलाई। पुलिस की गोली लगने के बाद बदमाश विजय घायल हो गया। हालांकि, इस दौरान एक बदमाश भागने में सफल रहा।घायल बदमाश को अस्पताल लाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। उसकी शिनाख्त विजय के रूप में हुई है।''

विजय ने कुछ दिन पहले छात्रा काजल की गोली मारकर हत्या कर दी थी। उस पर अपराध के दर्जनों मामले थे और एक लाख का इनाम भी था। बता दें कि गोरखपुर जिले के गगहा इलाके के जगदीशपुर भलुआन गांव के राजू नयन सिंह बांसगांव कचहरी में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी हैं। इनका विजय प्रजापति से रुपयों के लेन देने का विवाद था। 

kajal and arun kumar singh
Image Source: Social Media

20 अगस्त की रात में विजय प्रजापति समेत चार लोग राजू नयन सिंह के घर पहुंचे और उनकी पिटाई करने लगे। राजू नयन सिंह की बेटी काजल (17) पिता की पिटाई का वीडियो बनाने लगी। इस पर विजय प्रजापति ने काजल के पेट में गोली मार दी थी। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी।