जिंदगी का कोई भरोसा नहीं! फुटपाथ पर बेलन बेच रहे बुजुर्ग ने दुनिया को कहा अलविदा

 | 
bujurg

सागर के कटरा बाजार स्थित कीर्ति स्तंभ के पास हृदयविदारक घटना सामने आई है। फुटपाथ पर लकड़ी का सामान बेच रहे 75 वर्षीय बुजुर्ग की हार्ट अटैक से दुकान पर ही मौत हो गई। इस वजह से 80 साल की उम्र में भी बुजुर्ग को बाजार में फुटपाथ पर बेलन बेचने पड़ रहे थे। तंगहाल परिवार के एक मुखिया ने राेजी-राेटी के लिए फुटपाथ पर पटा-बेलन बेचते हुए दम तोड़ दिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक का नाम 80 वर्षीय चंदनलाल राय है। वह कीर्ति स्तंभ के पास तुलसीनगर में रहता है। घटना बुधवार की बताई जा रही है। माैत से कुछ देर पहले तक वे सामान बेचते नजर आए। वे कटरा बाजार समेत आसपास के मेलों में दुकान लगाते थे। दुकान का सामान बेचकर वे परिवार का पालन-पोषण कर रहे थे। बुधवार को भी चंदनलाल राय कटरा बाजार में लकड़ी के सामान की दुकान लगाए थे, तभी मौत हो गई।

आर्थिक तंगी से गुजर रहा परिवार 

saikil sawar ki maut

बेबसी और बदहाली के बीच उनकी माैत ने सिस्टम पर सवाल खड़े कर दिए हैं। दरअसल, उनका पूरा परिवार आर्थिक तंगी से जूझ रहा है। कहीं से काेई आर्थिक मदद नहीं मिली। जिसकी वजह से उन्हें इस उम्र में भी उन्हें फुटपाथ पर दुकान लगानी पड़ रही थी। 

बुजुर्ग को काफी देर तक मोटरसाइकिल से टिका देखा गया तो रास्ते से निकलने वाले लोगों की नजर उन पर पड़ी। करीब 1 घंटे तक शव दुकान पर पड़ा रहा। राहगीरों और आसपास के दुकानदारों ने ध्यान नहीं दिया। इसी बीच, संदेह होने पर एक राहगीर ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने शव का पंचनामा बनाकर पोस्टमाॅर्टम कराया है।

लकड़ी का सामान बेच भरते थे परिवार का पेट

बुजुर्ग की मौत का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। बताया जा रहा है कि बुजुर्ग चंदनलाल के चार बेटे और एक बेटी है. जिसमें एक बेटा मानसिक रोगी बताया जा रहा है। बाकि तीन बेटे मजदूरी करते हैं बेटी की शादी हो चुकी है।  उनकी 70 साल की पत्नी बीमार रहती है। 

saikil man
घर में मां को संभालता बेटा, बैठे परिवार वाले (Image Source: Dainik Bhaskar)

करीब 5 साल पहले पत्नी सियारानी को लकवा लग गया था। बेटे मजदूरी करते हैं, लेकिन घर की आर्थिक तंगी और बीमारी का खर्चा उठा पाना मुश्किल था। ऐसे में चंदनलाल बाजार में दुकान लगाते थे, ताकि दुकान की कमाई से परिवार का पेट भर सके। पत्नी बेटे का इलाज कराने में मदद कर सकें।

लकवाग्रस्त पत्नी को करीब 20 घंटे बाद पति की मौत की खबर दी। गुरुवार दोपहर चंदनलाल राय का अंतिम संस्कार किया गया।