रेप-हत्या के मामले में मिली उम्र कैद तो बलात्कारी ने जज पर चप्पल फेंक दी!

 | 
jaj

गुजरात का सूरत, यहां की POCSO विशेष अदालत ने 29 दिसंबर को रेप और मर्डर के एक मामले में सज़ा का ऐलान किया। बलात्कारी आरोपी को मिली उम्रकैद। बस फिर क्या था! सजा सुनते ही आरोपी इतना बौखलाया की उसने जज साहब पर चप्पल ही फेंक कर दे मारी। 

क्या है पूरा मामला?

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, गुजरात के सूरत में POCSO विशेष अदालत में सुनबाई चल रही थी। आरोपी का नाम, सुजीत मुन्नीलाल साकेत है। उस पर आरोप लगे कि उसने शहर के हजीरा इलाके में रहने वाली पांच साल की एक बच्ची को उसने चॉटकलेट का लालच दिया और उसे अपने साथ लेकर चला गया। इसके बाद उसने लड़की का रेप करके, उसकी हत्या कर दी। और फरार हो गया। 

'इंडिया टुडे' की खबर के अनुसार, पीड़िता एक प्रवासी मजदूर की बेटी थी। दोषी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था और उस पर यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण अधिनियम (POCSO) के तहत मुकदमा चलाया जा रहा था।

ट्रायल में सरकारी पक्ष ने 29 गवाहों को पेश किया। गवाहों और परिस्थितिजन्य सबूतों के आधार पर सुजीत को दोषी पाया गया। सरकारी वकील ने ये भी आरोप लगाया कि सुजीत ने एक और लड़की के साथ इसी तरह की हरकत करने की कोशिश की थी। 

कोर्ट में पेश सबूतों के मुताबिक, सुजीत के मोबाइल में एनिमल पॉर्न क्लिप्स भी मिली थीं, जिसके आधार पर सरकारी वकील ने दावा किया कि सुजीत आपराधिक प्रवृत्ति का है। पॉक्सो कोर्ट ने 29 दिसंबर को सुजीत को आखिरी सांस तक जेल में रखने की सज़ा सुनाई। 

आरोपी ने जज पर फेंकी चप्पल 

मामले में सज़ा का ऐलान हुआ, आरोपी को उम्रकैद साथ ही कोर्ट ने पीड़ित परिवार को 20 लाख रुपये का मुआवजा देने का भी आदेश दिया। इसके बाद, सज़ा से नाराज़ दोषी ने जज पर चप्पल फेंक मारी। हालांकि, चप्पल जज की टेबल तक नहीं पहुंची। कोरोना रोकथाम के लिए जज डेस्क के आगे लगे सीसे पर चप्पल टकराकर नीचे गिर गई।