वानखेड़े के समर्थन में केंद्रीय मंत्री अठावले, नवाव मलिक को क्या धांसू जवाव दे दिया?

 | 
sameer ankhede

NCB के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े महाराष्ट्र सरकार के निशाने पर हैं।  एनसीपी नेता और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक उन पर लगातार एक के बाद एक कई गंभीर आरोप लगा चुके है। अब रिपब्लिकन पार्टी के प्रमुख और केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने इस मामले में एनसीबी अफसर समीर वानखेड़े का बचाव किया है। इतना ही नहीं आठवले ने वानखेड़े पर लगे सभी आरोपों को निराधार बताया। 

वहीं, मंत्री रामदास आठवले के बयान के बाद समीर वानखेड़े की पत्नी क्रांति रेडकर वानखेड़े और उनके पिता ज्ञानदेव वानखेड़े का भी बयान आया है। इससे पहले समीर वानखेड़े की पत्नी क्रांति और पिता ध्यानदेव वानखेड़े ने रामदास आठवले से मुलाकात की। 

रामदास आठवले क्या बोले?

nawaw malik and sameer wankhede
Image Source: ANI

ऑफिसर समीर वानखेड़े के बचाव में आए केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने कहा:-

"मैं नवाब मलिक से कहना चाहता हूं कि समीर वानखेड़े और उनकी फैमिली को बदनाम करने की साजिश को बंद कर दें। अगर वे कहते हैं कि समीर मुस्लिम हैं, तो फिर वे मुसलमान पर आरोप क्यों लगा रहे हैं। आठवले ने कहा कि समीर वानखेड़े के साथ रिपब्लिकन पार्टी खड़ी है, समीर को कोई नुकसान नहीं होगा।"

रामदास आठवले ने कहा, वानखेड़े पर नवाब मलिक के आरोप निराधार हैं। इनमें कोई तथ्य नहीं हैं। समीर वानखेड़े दलित हैं. वे दलित समाज से आते हैं। उन पर जानबूझ कर रोज आरोप लगाए जा रहे हैं। उनपर आरोप लगाकर पूरे दलित समाज को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है। हमारी पार्टी समीर वानखेड़े के साथ खड़ी है। 

वानखेड़े के आरक्षण पर आठवले का पलटवार 


समीर वानखेड़े के पिता ज्ञानदेव वानखेड़े ने हमें डॉक्यूमेंट दिखाए कि उनकी पत्नी मुसलमान थीं, वह महार जाति के हैं। इससे जुड़े डॉक्यूमेंट भी उन्होंने हमें दिखाए हैं। समीर वानखेड़े दलित परिवार के हैं उन्हें आरक्षण लेने का अधिकार है। आरक्षण के माध्यम से आईआरएस बने हैं।

वानखेड़े की पत्नी क्रांति और पिता ने क्या कहा?


आपको बता दे, नवाव मालिक के आरोपों के बीच समीर वानखेड़े की पति और पिता ने केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले से मुलाक़ात की और समीर वानखेड़े के ऊपर हो रही राजनीती से उन्हें अवगत कराया। जिसके बाद आठवले ने नवाव मलिक के आरोपों को निराधार बताते हुए वानखेड़े का बचाव किया। इसके बाद समीर वानखेड़े की पत्नी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरा कहा:-

रामदास अठावले ने कहा कि ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि नवाब मलिक कह रहे हैं कि समीर एक दलित सीट छीन रहे हैं। अठावले जी हमारे साथ खड़े हैं, उन्हें हर दलित की चिंता है। अभी तक नवाब मलिक के सभी आरोप गलत ही साबित हुए हैं। 

इसके बाद समीर वानखेड़े के पिता ने भी प्रेस को संबोधित किया और कहा, "नवाब मलिक ने कहा कि हमने एक दलित का अधिकार छीना। हम खुद दलित हैं। अगर आपको कुछ कहना है तो आप कोर्ट जाएं। क्योंकि मेरे बेटे ने आपके दामाद को अरेस्ट किया, इसलिए आप आरोप लगा रहे हैं। मैंने और मेरे बेटे ने कभी इस्लाम कबूल नहीं किया। ये आरोप गलत है।"

क्या है पूरा मामला?

आपको याद होगा कुछ दिनों पहले समीर वानखेड़े की टीम ने शाहरुख़ खान के लड़के आर्यन खान को ड्रग्स मामले में अरेस्ट कर जेल भेज दिया, उसके बाद से ही उनके ऊपर महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाव मालिक हावी है। बताया जाता है कि नवाव मलिक के दामाद को भी वानखेड़े ने गिरफ्तार किया था। 

sameer vankhede
Image Source: ANI

अब नवाव मलिक एक के बाद एक आरोप वानखेड़े पर लगाते है और सबूत के साथ ट्वीट कर देते है। जिसके बाद वानखेड़े की जाति, धर्म और नौकरी पर सवाल उठ खड़े हुए। इसके साथ ही शाहरुख़ खान के बेटे आर्यन खान की गिरफ्तारी मामले में आरोप लगे रिस्बत मांगने के तो NCB ने वानखेड़े के खिलाफ जांच भी सुरु कर दी। 

इन सबके बीच, बीते दिन यानी शनिवार को नवाब मलिक के लगाए आरोप को लेकर एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े अनुसूचित जाति आयोग पहुंचे और अपने खिलाफ हो रही बयानबाजी की शिकायत की। वहां उन्होंने अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष से मुलाकात की और अनुसूचित जाति से होने के सबूत पेश किए।