राजस्थान की सियासत में हलचल, राजस्थान सरकार के सभी मंत्रियों ने दिया इस्तीफा!

 | 
sachin poilt

राजस्थान में गहलोत मंत्रिमंडल (Rajasthan Cabinet Reshuffle) के पुनर्गठन से पहले सभी मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है। इस मामले में रविवार को दोपहर 2 बजे मीटिंग होनी है। मंत्रिपरिषद की बैठक में सभी मंत्रियों ने इस्तीफे दिए. हालांकि, सूत्रों के मुताबिक, आज मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) राज्यपाल से मुलाकात नहीं करेंगे। 

गहलोत से बैठक के दौरान मंत्रियों ने सौंपे इस्तीफे 

राजस्थान मंत्रिपरिषद की बैठक शनिवार शाम मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में हुई जिसमें सभी मंत्रियों ने अपने इस्तीफे दे दिए। यह जानकारी राज्य के परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास (Pratap Singh Khachariyawas) ने मंत्रिपरिषद की बैठक के बाद दी। 


बताया जा रहा है कि राजस्थान में मंत्रिमंडल में जल्द विस्तार होना है। इसी के चलते गहलोत के आवास पर बैठक हुई थी। इसके बाद सभी मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया। कल दोपहर 2 बजे प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में जाएंगे और वहां से सब कुछ तय होगा। इस बैठक के बाद खाचरियावास ने कहा, ‘मंत्रिपरिषद की बैठक मुख्यमंत्री गहलोत की अध्यक्षता में हुई। जिसमें सभी मंत्रियों ने इस्तीफे दे दिए हैं।’

इन विधायकों को बनाया जा सकता है नया मंत्री

नए मंत्रिमंडल के लिए सचिन पायलट खेमे से मंत्री पद के लिए जो संभावित नाम सामने आ रहे हैं। वह हेमाराम चौधरी ,बृजेन्द्र ओला, दिपेंद्र सिंह शेखावत, रमेश मीणा और मुरारीलाल मीणा हैं. वहीं इधर, गहलोत ख़ेमे से संभावित नाम हैं। 


यहां 15 संसदीय सचिव बनाए जा सकते हैं। अशोक गहलोत ने कहा कि पता नहीं क्या फैसले होंगे। ये या तो हाई कमान जानता है या अजय माकन जानते हैं। अजय माकन जिस काम के लिए आए हैं वह काम भी करना है। कल हुए राजनीतिक घटनाक्रम में राजस्थान के प्रभारी अजय माकन जयपुर पहुंचे। 

sachin poilt
Image Source: DNA India

सूत्रों के मुताबिक, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को एक झटका ये भी लग सकता है कि बीएसपी से कांग्रेस में शमिल हुए विधायकों को मंत्रिमंडल में मौका नहीं मिलेगा।  इसी तरह सरकार को समर्थन दे रहे निर्दलीय विधायकों को भी मंत्री नहीं बनाया जाएगा।