3 बार शाही मेहमान बनकर भारत आईं क्वीन एलिजाबेथ-II, बाघ का शिकार...ताजमहल का दीदार!

 | 
Queen Elizabeth II And Her India Visit

ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का गुरुवार को निधन हो गया है। वह पिछले कुछ वक्त से बीमार थीं। 96 साल की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय फिलहाल स्कॉटलैंड के बाल्मोरल कैसल में थीं, और  यहीं उन्होंने अंतिम सांस ली। महारानी एलिजाबेथ II ने 6 फरवरी 1952 को पिता किंग जॉर्ज की मौत के बाद ब्रिटेन का शासन संभाला था, तब उनकी उम्र सिर्फ 25 साल थी। तब से 70 साल तक उन्होंने शासन किया। वे ब्रिटेन के इतिहास में सबसे लंबे समय तक शासन करने वाली पहली महिला सम्राट हैं। 

एलिजाबेथ सिर्फ ब्रिटेन ही नहीं, 14 अन्य आजाद देशों की भी महारानी थीं। ये सभी देश कभी न कभी ब्रिटिश हुकूमत के अधीन रहे थे। ब्रिटिश रानी एलिजाबेथ द्वितीय एक संवैधानिक रानी थीं। वे यूनाइटेड किंगडम की हेड ऑफ स्टेट यानी राज्य प्रमुख थीं। अब उनकी जगह लेने वाले चार्ल्स भी इसी तरह प्रतीकात्मक राजा होंगे। लेकिन क्या आप जानते है कि एलिजाबेथ-II तीन बार भारत आईं और भारत की शाही मेहमान बनी थीं। तो चलिए उन चुनिंदा 10 तस्वीरों से होकर गुजरते हैं..!

3 बार भारत आईं एलिजाबेथ-II

queen Elizabeth II And Her India Visit
Image Source: AAJ Tak

ब्रिटेन और महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का भारत से गहरा नाता रहा है। वे 70 साल के अपने महारानी काल में तीन बार भारत आई थीं। 1961, 1983 और 1997 में वो भारत की शाही मेहमान बनी थीं। इस दौरान उनकी देश के प्रथम प्रधानमंत्री पं. जवाहर लाल नेहरू से लेकर इंदिरा गांधी और आईके गुजराल व समकालीन राष्ट्रपतियों डॉ. राजेंद्र प्रसाद, ज्ञानी जेल सिंह और केआर नारायणन से भी मुलाकातें हुई।

पहलीबार रिपब्लिक डे पर शाही मेहमान बनीं!

वह पहली बार भारत को आजादी मिलने के लगभग 15 साल बाद 1961 में अपने पति ड्यूक ऑफ एडिनबर्ग ( Duke of Edinburgh) के साथ भारत दौरे पर आई थीं। यह भारत की आजादी के बाद लंदन की महारानी का पहला शाही दौरा था।  उस समय भारत के राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद, प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू और उपराष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने दिल्ली हवाईअड्डे पर शाही जोड़े का स्वागत किया था। 

Queen Elizabeth II And Her India Visit
Image Source: Social Media

वह डॉ. राजेंद्र प्रसाद के न्यौते पर गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होने आई थीं। महारानी के साथ उनके पति स्व. प्रिंस फिलिप भी आए थे। उस समय प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने क्वीन का स्वागत करने के लिए रामलीला मैदान में एक कार्यक्रम की मेजबानी भी की थी, जहां उन्होंने भाषण दिया था। उन्होंने अपने इस संबोधन में इस बेहतरीन मेहमाननवाजी के लिए भारत का आभार जताया था।  

Queen Elizabeth II And Her India Visit
Image Source: ABP News

इसके अलावा दिल्ली में उन्होंने राजघाट जाकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि भी दी थी। इस दौरान दिल्ली कॉरपोरेशन ने उन्हें हाथी के दांतों से बनी कुतुब मीनार का दो फीट लंबा मॉडल भेंट दिया था। महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने 27 जनवरी को ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज की इमारतों का उद्घाटन भी किया था, जहां उन्होंने परिसर में कुछ पौधे भी लगाए थे। 

जयपुर में प्रिंस फिलिप ने बाघ का शिकार किया था!

Queen Elizabeth II And Her India Visit
Image Source: Bhaskar

अपने पहले भारत दौरे पर आईं एलिजाबेथ-II काशी भी पहुंची थीं। उन्होंने काशी नरेश विभूति नारायण सिंह के साथ शाही हाथी और नौका बिहार का भी आनंद उठाया था। इसके अलावा ब्रिटेन की ये रॉयल फैमिली जयपुर रॉयल फैमिली की मेहमान भी बनी थी, तस्वीर में उनके साथ जयपुर के महाराज और महारानी भी नजर आ रहे हैं। इस दौरान प्रिंस फिलिप ने बाघ का शिकार किया था।

ताजमहल का दीदार भी किया!

Queen Elizabeth II And Her India Visit
Image Source: Bhaskar

गणतंत्र दिवस की परेड के बाद महारानी एलिजाबेथ द्वितीय आगरा के लिए रवाना हो गई थीं, जहां खुली जीप में सवार होकर उन्होंने ताजमहल तक का सफर किया। इस दौरान उन्होंने सड़कों पर उमड़ें हजारों लोगों की ओर हाथ हिलाकर उनका अभिवादन स्वीकार किया। साथ में उनके पति प्रिंस फिलिप भी थे।

पहले दौरे पर आधा इंडिया घूम गई थी महारानी!

Queen Elizabeth II And Her India Visit
Image Source: Bhaskar & News Express

आपको बता दे, पहलीवार महारानी एलिजाबेथ-II और उनके पति 6 हफ्ते के दौरे पर भारत आई थीं। इस दौरान उन्होंने दिल्ली से लेकर जयपुर, आगरा के ताजमहल से लेकर कोलकाता के विक्टोरिया मेमोरियल, बेंगलुरु के बॉटेनिकल गार्डन, और मुंबई से लेकर बनारस तक का शाही दौरा किया था। इस दौरे के दौरान भारतीय जनता ने दिल खोलकर ब्रिटेन की महारानी का स्वागत किया था। 

7 नवंबर 1983 को दूसरी बार भारत आई थीं महारानी!

Queen Elizabeth II And Her India Visit
Image Source: Bhaskar

आपको बता दे, ब्रिटिश महारानी 1983 में कॉमनवेल्थ देशों की बैठक में हिस्सा लेने भारत के दौरे पर आई थीं। इस दौरान उन्होंने तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी से भी मुलाकात की थी। इसी दौरान उन्होंने मदर टेरेसा को मानद सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ द मेरिट‘ प्रदान किया था। आपको बता दे, कॉमनवेल्थ में ज्यादातर बह देश शामिल है जिनपर कभी ब्रिटेन ने राज किया था। जिसमे भारत भी शामिल है। 

जलियांवाला बाग पहुंचकर दी श्रधांजलि!

Queen Elizabeth II And Her India Visit
Image Source: The New Indian Express

ब्रिटेन की महारानी भारत की आजादी के 50 साल पूरे होने पर 1997 में तीसरी और आखिरी बार भारत आई थीं। इस दौरान क्वीन को राष्ट्रपति भवन में गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया था। इसी दौरान शाही दंपती ने आजादी के आंदोलन के दौरान हुए जलियांवाला बाग हत्याकांड का जिक्र करते हुए उसे दुखद बताया था। इसके बाद महारानी और उनके प्रिंस फिलिप ने जलियांवाला बाग स्मारक जाकर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की थी, जिन्हें ब्रिटिश राज के दौरान जनरल डायर ने गोलियों से भून दिया था। इस दौरान क्वीन नंगे पैर जलियांवाला पहुंची थीं। 

पीएम मोदी से 2 बार की मुलाकात!


आपको बता दे, भारत के मौजूदा पीएम नरेंद्र मोदी और क्वीन एलिजाबेथ-II दो बार 2015 और 2018 में मुलाक़ात कर चुके है। पीएम ने उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए कहा है कि वह उनकी गर्मजोशी और दयालुता को नहीं भूलेंगे। बकौल पीएम महारानी ने एक मुलाकात के उन्हें वह रूमाल दिखाया था, जो महात्मा गांधी ने उन्हें उनकी शादी में उपहार में दिया था।