हैवानियत की इंतहा: पहले आदिवासी व्यक्ति को चोरी के शक में पीटा, गाड़ी से बांधकर घसीटा, मौत

 | 
satna news

मध्‍य प्रदेश के नीमच जिले में हैवानियत की इंतहा देखने को मिली। यंहा नीमच में एक आदिवासी व्यक्ति को पिकअप से बांधकर घसीटा गया। मारपीट की गई, जिसके बाद व्यक्ति की मौत हो गई है। इस वारदात का वीडियो भी सामने आया है। जो अब वायरल हो रहा है। पुलिस ने इस मामले में 8 आरोपियों की पहचान की है। और 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इन पर हत्या और SC/ST एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। 

क्या है पुरा मामला?

हिंदुस्तान की एक खबर अनुसार, 45 साल के इस युवक के साथ यह घटना गुरुवार को जेटिया गांव में हुई है। कान्हा उर्फ कन्हैया भील, बाणदा का रहने वाले थे। चोरी के शक में कुछ लोगों ने उन्हें बुरी तरह पीटा। पिकअप वाहन के पीछे रस्सी से पैर बांधकर दूर तक घसीटा। इतनी प्रताड़ना के बाद आरोपी नहीं माने, उन्होंने उन्हें पैरों से मारना शुरू कर दिया।

satna mp news
Image Source: VideoSceenShot

 

भीड़ से युवक उसे बख्श देने की गुहार लगा रहा है लेकिन उसकी कोई नहीं सुनता। वीडियो में देखा जा सकता है कि कन्हैया भील मारपीट करने वालों के हाथ पैर जोड़ रहे  हैं और कह रहे हैं कि उन्होंने कुछ नहीं किया है। लेकिन आरोपी नहीं माने। 

मृतक युवक की पहचान कान्हा उर्फ कन्हैया भेल के तौर पर हुई है। पुलिस ने इस मामले में 8 लोगों की पहचान की है। इनमें से 5 लोगों पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। नीमच एसपी सूरज वर्मा ने मामले में 8 लोगों के खिलाफ हत्या और SC/ST एक्ट का मामला दर्ज करने के आदेश दिए। मुख्य आरोपी महेंद्र को गिरफ्तार कर लिया गया महेंद्र गुर्जर की पत्नी सरपंच है। 

एडिशनल एसपी नीमच सुंदर सिंह कनेश ने बताया,

वायरल वीडियो से आरोपियों की पहचान में मदद मिली है। घटना में शामिल अन्य लोगों को जल्द ही पकड़ लिया जाएगा। पुलिस ने इस मामले में हत्या, अनुसूचित जाति/जनजाति एक्ट के तहत केस दर्ज किया है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने किया ट्वीट  


इस घटना का वीडियो मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट किया है। उन्होंने ट्वीट करके लिखा, ये मध्यप्रदेश में हो क्या रहा है…? अब नीमच ज़िले के सिंगोली में कन्हैयालाल भील नाम के एक आदिवासी व्यक्ति के साथ बर्बरता की बेहद अमानवीय घटना सामने आयी है ? मृतक को चोरी की शंका पर बुरी तरह से पीटने के बाद उसे एक वाहन से बांधकर निर्दयता से घसीटा गया, जिससे उसकी मौत हो गयी?

सतना, इंदौर, देवास और अब नीमच में अमानवीयता की घटनाएँ…? पूरे प्रदेश में अराजकता का माहौल , लोग बेख़ौफ़ होकर क़ानून हाथ में ले रहे है , क़ानून का कोई डर नही ,सरकार नाम की चीज़ कही भी नज़र नही आ रही है…? मै सरकार से माँग करता हूँ कि ऐसी घटनाओं पर रोक लगाने को लेकर तत्काल आवश्यक कदम उठाये , दोषियों पर कड़ी कार्यवाही हो , प्रदेश में क़ानून का राज स्थापित हो।