पीएम की सुरक्षा चूक पर सिद्धू का शर्मनाक बयान! कही ड्रामेबाजी बाते...सामने आया वीडियो!

 | 
pm narendra modi and navjot singh siddhu

पंजाब में कुछ हफ्तों बाद विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं, जिसके मद्देनजर बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फिरोजपुर में एक रैली को संबोधित करने वाले थे। लेकिन रैली से पहले ही बबाल हो गया, बो भी पीएम की सुरक्षा को लेकर। रैली स्थल से कुछ किलोमीटर पहले ही पीएम मोदी का काफिला रोक लिया गया, और पीएम की सुरक्षा में सेंध लगा दी गई। 

Navjot Singh Siddhu
Image Source: Zee News

अब बीजेपी पंजाब की कांग्रेस सरकार पर इसका ठीकरा फोड़ रही है, जिसे लेकर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने पीएम मोदी पर पलटवार किया है।

सिद्धू ने पीएम की सुरक्षा में सेंध को बताया ड्रामा

पंजाब कांग्रेस से अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने पीएम मोदी की सुरक्षा चूक (PM Modi Security Breach) को ड्रामा बताया है। सिद्धू ने कहा कि खाली कुर्सियों की वजह से रैली रद्द की गई। अपने एक कार्यक्रम में पीएम मोदी को किसान आंदोलन की याद दिलाते हुए कहते हैं:- 

'किसान एक साल से अधिक समय तक दिल्ली की सीमाओं पर धरने पर बैठे रहे, लेकिन कल जब पीएम को लगभग 15 मिनट तक इंतजार करना पड़ा तो वे (मीडिया) इससे परेशान हो गए। ये दोहरा मापदंड क्यों? मोदी जी, आपने कहा था कि आप किसानों की आय दोगुनी कर देंगे, लेकिन उनके पास जो कुछ भी था वह भी आपने ले लिया। आज आप चाहे जितने ड्रामे कर लो, फोटो लगा के कहो जी धन्यवाद हमने काले कनून वापस ले लिए।'


पंजाब सरकार के दावों की खुली पोल!

Zee News की एक रिपोर्ट अनुसार, पंजाब के एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर की चिठ्ठी से पंजाब सरकार के कल के दावों की पोल खुल गई है। पंजाब के एडीजीपी की चिठ्ठी के मुताबिक पंजाब सरकार को किसानों के प्रदर्शन की पहले से जानकारी थी।  एडीजीपी ने पत्र में ये भी लिखा था कि 5 तारीख को बारिश के अनुमान के साथ किसानों का धरना है, इसलिए सुरक्षा के खास इंतजाम किए जाने चाहिए। 

वंही इसके विपरीत पंजाब के सीएम प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राजनीती करते हुए कहते है कि सड़क मार्ग का पता नहीं था। इसके अतिरिक्त बह कहते है, जाम लगाने बाले हिंसक नहीं थे बह शांतिपूर्ण तरीके से अपना विरोध दर्ज कर रहे थे। पीएम की सुरक्षा को कोई खतरा नहीं था, रैली इस बजह से रद्द हुए क्यूंकि रैली में भीड़ नहीं थी।