मुंबई: जिंदगी-मौत से जूझने के बाद रेप पीड़िता ने तोडा दम, हुई थी 'निर्भया' जैसी दरिंदगी

 | 
Mumbai News

मुंबई में निर्भया जैसी हैवानियत की शिकार हुई 30 वर्षीय महिला आखिरकार जिंदगी की जंग हार गई। आरोपी ने रेप के बाद महिला के प्राइवेट पार्ट पर रॉड से गंभीर रूप से हमला किया था। पीड़ित महिला का मुंबई के राजावाड़ी हॉस्पिटल में इलाज चल रहा था। बता दें कि इस महिला के साथ 'निर्भया' जैसी हैवानियत हुई थी।  आरोपी ने रेप के बाद महिला के प्राइवेट पार्ट में रॉड भी डाल दी थी। मुंबई पुलिस ने ये जानकारी दी है। 

एक और निर्भया का अंत

Mumbai news

सेफ सिटी इंडेक्स (2021) में देश की दूसरी सबसे सुरक्षित मानी जाने वाली मुंबई में रेप के बाद मारपीट का शिकार हुई महिला। CCTV फुटेज के मुताबिक, घटना गुरुवार रात 2.30 से 3 बजे के बीच हुई है। पुलिस का कहना है कि सड़क किनारे खड़े एक टेम्पो के अंदर महिला के साथ यह हैवानियत की गई है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि वाहन के अंदर भी खून के धब्बे मिले हैं।

पुलिस ने बताया कि कंट्रोल रूम को सूचना मिली थी कि एक महिला को एक शख्स बुरी तरह से पीट रहा है। यह सूचना मिलते ही पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची। यहां सड़क पर महिला खून से लथपथ पड़ी हुई थीं। इसके बाद महिला को इलाज के लिए तुरंत अस्पताल ले जाया गया। आज अस्पताल में महिला की मौत हो गई।

क्या बोली मुंबई पुलिस?

Mumbai News

इस जघन्य अपराध के आरोप में हाल ही में जिस शख्स को मुंबई पुलिस ने पकड़ा है उसका नाम मोहन चौहान बताया जा रहा है।  बता दें कि इस महिला के साथ 'निर्भया' जैसी हैवानियत हुई थी। आरोपी ने रेप के बाद महिला के प्राइवेट पार्ट में रॉड भी डाल दी थी।

कमिश्नर हेमंत नागराले ने आगे बताया कि इलाज के दौरान महिला रिस्पांड कर रही थी। हालांकि, डॉक्टर्स ने उन्हें काफी प्रयास किया उन्हें बचाने का, लेकिन वे दुर्भाग्यवश से नहीं बच सकीं। हमने पहले इस मामले में हत्या के प्रयास और रेप का केस दर्ज किया था, लेकिन अब मामले में हत्या का केस दर्ज किया गया। 

2 बेटियों की माँ थी पीड़िता 

Mumbai News
आरोपी मोहन चौहान (Image Source: Dainik Bhaskar)

जांच में सामने आया है कि पीड़िता की 13 और 16 साल की दो बेटियां हैं और महिला ही अपने परिवार के पालन-पोषण के लिए प्राइवेट नौकरी करती थी। जांच में सामने आया है कि आरोपी को महिला सड़क किनारे टहलते हुए मिली थी। रेप के बाद वह महिला की हत्या करना चाहता था, इसलिए उसने प्राइवेट पार्ट पर रॉड से हमला किया।

आरोपी जौनपुर का रहने वाला है। वह अपने भाई और बहन के साथ मुंबई के साकीनाका इलाके में ही रहता था। वह कभी ड्राइवर का काम करता था और कभी कचरा उठाने का काम करता था।  फ़िलहाल आरोपी 21 सितंबर तक पुलिस कस्टडी में है। CM ने इस मामले में फ़ास्ट ट्रैक सुनवाई का आदेश दिया है।