मां ने उजाड़ा बेटी की मांग का सिंदूर, 5 लाख की सुपारी देकर करा दी दामाद की हत्या!

 | 
Damad Murder case

राजस्थान के जोधपुर (Jodhpur) में एक सास (Mother-in-law) ने अपने दामाद (Son-in-law) की हत्या करा दी। दामाद की हत्या के लिए पांच लाख रुपये की सुपारी दी गई थी। हत्या की इस साजिश में सास ने अपने पड़ोसियों को शामिल किया था। 

पुलिस ने इस ब्लाइंड मर्डर का खुलासा करते हुए आरोपी सास के साथ मिलकर वारदात को अंजाम देने वालों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तारी के बाद आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया जिसके बाद उन्हें जेल भेज दिया गया। 

लव मैरिज बनी हत्या की वजह

Damad Murder Case
Image Source: Zee News

एडीसीपी भागचंद मीणा ने बताया कि विनोद की हत्या करवाने के पीछे का कारण लव मैरिज और उसके खराब आर्थिक हालात थे।  विनोद ने मदेरणा कॉलोनी निवासी युवती से 4 साल पहले प्रेम विवाह किया था। वह मजदूरी करता था, जिसकी वजह से उसकी सास से अनबन चल रही थी। सास ग्यारसी देवी बीते चार साल से अपने दामाद विनोद से खफा थी। 

आरोपियों ने बताया कि ग्यारसी देवी को उसके दामाद का रहन-सहन और उसके तौर-तरीके पसंद नहीं थे। ग्यारसी के पति की कुछ साल पहले ही मौत हो गई थी। पति की पेंशन से गुजारा हो रहा था ऐसे में बेटी की लव मैरिज ने उसके मन में दामाद के लिए नफरत भर दी थी। 

पुलिस ने बताया कि 31 जुलाई को विनोद ससुराल आया था। वह अपनी सास से मिलने के बाद जैसे ही घर से निकला, तो प्लान के मुताबिक पड़ोसी जब्बर सिंह और धनराज उसके पीछे लग गए। सास न अपने दामाद विनोद को मारने के लिए पांच लाख रुपये में सौदा तय किया था। 

Damad Murder Case
Image Source: Aaj Tak

वे उसे अपने साथ एक सुनसान जगह ले गए, जहां जब्बर और धनराज ने दामाद विनोद को पहले शराब पिलाई फिर पेचकस से वार करने के बाद गला घोंट दिया। और हत्या करने के बाद लाश को प्लास्टिक के बोरे में बंद कर फेंक दिया।

3 दिन में पुलिस ने सुलझा लिया केस 

Damad Murder Case
Image Source: Aaj Tak

जोधपुर के मंडोर थाना क्षेत्र के सुरपुरा बांध रोड पर एक अगस्त को प्लास्टिक के बोरे में शव बरामद किया गया था। पुलिस ने इस मामले में जांच शुरू कर दी। मामले की जानकारी देते हुए एडीसीपी ने बताया कि विनोद हत्या के दिन उसकी मोबाइल लोकेशन भी मदरेणा कॉलोनी में मिली। 

पुलिस ने मृतक के मोबाइल की अंतिम लोकेशन के आधार पर जांच करते हुए ससुराल के आसपास नजर रखना शुरू कर दिया। सादा कपड़ों में पुलिस के जवान वहां तैनात कर दिए गए। पुलिस ने हत्या वाले दिन के सीसीटीवी फुटेज खंगाले, तो उसमें विनोद अकेला ससुराल जाते हुए देखा गया। 

Damad Murder Case
Image Source: Aaj Tak

इसके बाद पुलिस का शक सास पर गहरा गया। पुलिस ने आस-पास के CCTV फुटेज और अन्य सोर्स से पता किया साथ ही सादी वर्दी में पुलिस के जवान वहां तैनात किए। हत्या वाले दिन के विनोद को ससुराल जाते देखा गया। इसके बाद सास ग्यारसी देवी से पूछताछ शुरू हुई, जिसमे बह टूट गई। और पुलिस के सामने दामाद हत्या का जुर्म कबूल कर लिया। 

पुलिस ने इस मर्डर का खुलासा 72 घंटे के भीतर कर दिया। जिसमे सास ने कबूल किया किया कि दामाद की हत्या उसने पड़ोसियों को 5 लाख की सुपारी देकर कराई थी।