किसानों को कुचलने वाली जीप में मौजूद था मंत्री टेनी का बेटा आशीष, पुलिस की चार्जशीट में खुलासा!

 | 
lakhimpur ashish mishra

लखीमपुर खीरी हिंसा के आज 90 दिन पूरे हो चुके हैं। मामले में SIT ने न्यायालय में आरोप पत्र दाखिल कर दिया है। जांच टीम ने सोमवार को अदालत में पांच हजार पन्नों की चार्जशीट दाखिल की। जिसमें 208 गवाहों और 14 आरोपियों के नाम हैं। इन आरोपियों में गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र का एक रिश्तेदार भी शामिल है। मामले का मुख्य आरोपी आशीष मिश्र है। 

3 अक्टूबर को तुकनिया कांड में एक पत्रकार समेत 8 लोगों की मौत हो गई थी। इसमें दोनों पक्षों की तरफ से मुकदमा पंजीकृत कराया गया था। मामले की जांच SIT टीम कर रही है। इसी तारीख को रात में एफआईआर दर्ज कराई गई थी। जिसमें 14 लोगों को मामले का आरोपी बताया गया था। उधर, भाजपा नेता की ओर से दर्ज कराई गई एफआईआर में अब तक सात आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

अजय मिश्र का साला वीरेंद्र शुक्ला भी आरोपी

ashish mishra

3 अक्टूबर से 3 जनवरी तक तुकनिया कांड के 90 दिन पूरे हो चुके हैं। मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे आशीष मिश्र मोनू समेत 13 लोग न्यायिक हिरासत में जेल में बंद हैं। और अब चार्जशीट में गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र के बेटे आशीष मिश्र के साथ ही उनके साले वीरेंद्र शुक्ला का भी नाम जोड़ा गया है। शुक्ला ब्लॉक प्रमुख है। 

घटना के दिन काफिले में वीरेंद्र शुक्ल की स्कॉर्पियो गाड़ी थी। जोकि संपूर्णानगर से पुलिस ने बरामद की थी। 

जेल में है आरोपी आशीष मिश्र 

ashish mishra
Image Source: Hindustan Times

आपको बता दे, केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र का बेटा आशीष मिश्र मोनू समेत 13 आरोपी जिला कारागार में बंद हैं। आशीष को मुख्य साजिशकर्ता बताया जा रहा है। वंही SIT रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि आशीष मिश्रा घटनस्थल पर गाडी में मौजूद था। ये बही गाड़ियां थी, जिनसे किसानो को कुचल दिया गया था।

क्या मंत्री पिता देंगे इस्तीफ़ा? 

आपको बता दे घटना होने के बाद से ही विपक्ष की ओर से  केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र के इस्तीफे की मांग की जा रही है। देश की राजनीति की दशा और दिशा को प्रभावित करने वाले तिकुनिया कांड पर लोगों के साथ ही राजनीतिक पंडितों की भी नजर है। इसकी वजह केंद्रीय मंत्री के बेटे का इस मामले में आरोपी होना है। मामला हाईप्रोफाइल होने की वजह से मीडिया की सुर्खियों में रहा है।