नन्हे रिपोर्टर ने खोल दी सरकारी स्कूल की पोल, वीडियो देख लोग बोले- सच्चा पत्रकार यही है!

 | 
viral video

आए दिन यह बहस बड़ी होती जा रही है कि मीडिया अपना काम किस तरह से कर रहा है? क्या वो जायज सवाल उठा रहा है या फिर माहौल हवाबाजी का है। बहस लंबी है लेकिन फिर भी कुछ लोग हैं, जो अपना काम करते जा रहे हैं और सरकार से वाजिब सवाल पूछ रहे हैं। खैर, झारखंड के गोड्डा जिले से एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। 

12 साल का एक बच्चा अपने स्कूल के बुरे हाल सबके सामने रिपोर्टिंग के स्टाइल में रख रहा है। वो लकड़ी का माइक बनाता है और फिर 'रिपोर्टर' बन जाता है और स्कूल की बदहाली सबको बता रहा है। वीडियो में सरफराज स्कूल में घूम-घूमकर बता रहा है कि स्कूल में न टॉयलेट है, न ही पीने के पानी की व्यवस्था। इतना ही नहीं इस ‘नन्हे रिपोर्टर’ ने शिक्षकों की मनमानी भी बताई। क्या है पूरा मामला? चलिए हम आपको बताते है। 

नन्हे रिपोर्टर ने दिखाई स्कूल की हालत!

मामला झारखंड के गोड्डा जिले के महगामा ब्लॉक का है जहां खिमियाचक के स्कूल में पढ़ने वाले एक पूर्व छात्र ने ‘रिपोर्टर’ की भूमिका निभाते हुए स्कूल की समस्याओं का वीडियो बनाया। कोल्ड ड्रिंक की एक खाली बोतल को माइक की तरह लिए 12 साल के सरफराज ने स्कूल की बदहाली सामने ला दी। वीडियो में सरफराज स्कूल में घूम-घूमकर बता रहा है कि स्कूल में न टॉयलेट है, न ही पीने के पानी की व्यवस्था। 

sarfaraj viral video
Image Source: Viral Video ScreenShot

इतना ही नहीं इस ‘नन्हे रिपोर्टर’ ने शिक्षकों की मनमानी भी बताई। कहा शिक्षक हाजिरी लेकर गायब हो जाते हैं। इस वीडियो में देखा जा सकता है कि कैसे वो सरकारी स्कूल की खामियां गिना रहा है। इस बच्चे का नाम सरफराज है, वो 12 साल का है। 

स्कूल में गंदगी, क्लास रूम में पड़ा चारा दिखाया!

तेजी से शेयर हुए इस वीडियो में सरफराज खान ने दिखाया है कि स्कूल में गंदगी का अंबार है। शौचालय भी नहीं है। क्लास रूम में पढ़ाई होने की जगह चारा भरकर बाहर से बंद कर दिया गया है। मिड डे मील के लिए खाना बनाने वाली जगह पर भी गंदगी पसरी रहती है। सफाई नहीं होने के कारण स्कूल कैंपस में खरपतवार उग आए हैं।


पूरे परिसर में हर जगह गंदगी दिख रही है। क्लासरूम में भी गंदगी का है। यहां तक कि टॉयलेट भी गंदगी से भरे पड़े हैं। वीडियो में सरफराज बोलता है, 'मेरा नाम सरफराज खान है। आपको बता रहा हूं कि मैं उत्क्रमित प्राथमिक विद्यालय भिखियाचक में पहुंचा हूं। जैसा कि मैं बता रहा हूं कि स्कूल खुल गया है। (शिक्षक) घर में सो गया है सिर्फ हाजिरी बनाने आता है। 

sarfaraj viral video
Image Source: Viral Video ScreenShot

एक भी बच्चा नजर नहीं आ रहा है। ना सफाई की व्यवस्था है और ना पानी की व्यवस्था है। इस वीडियो के जरिए सरफराज ने झारखंड के शिक्षा मंत्री से की अपील है। वो बोलता है, 'इस स्कूल की व्यवस्था ठीक करें। स्कूल के लिए पैसे आते हैं लेकिन रिपेयरिंग नहीं करवाई जाती है। अभी पौने एक बज रहा है लेकिन देखिए कि एक भी टीचर नहीं है।

क्यों बनाया वीडियो 

वीडियो बनाने के पीछे मकसद पूछे जाने पर सरफराज ने कहा कि, 'जब मैं यहां पढ़ता था, तब भी यही हालात थे, पढ़ाई नहीं होती है। कोई सुविधा नहीं थी। अब मेरे छोटे भाई इसी स्कूल में पढ़ते हैं इसलिए उसने वीडियो बनाकर वायरल किया है ताकि कुछ सुधार हो सके। 

स्कूल टीचर से धमकी भी मिली!

भास्कर की रिपोर्ट अनुसार, वीडियो वायरल होने के बाद सरफराज को टीचर की ओर से धमकी भी मिली है। शिक्षक उनके घर पर आकर धमकियां दे रहे हैं।शिक्षकों ने उसके घर पर पहुंचकर उसे ऐसा नहीं करने को कहा है। सरफराज ने कहा कि उसकी मां को धमकाने की कोशिश की गई है। सरफराज ने दावा किया कि वीडियो सामने आने के बाद स्कूल में थोड़ा बदलाव भी आया है।