सपा MLC पुष्पराज जैन के घर IT की रेड, अखिलेश यादव संग लॉन्च किया था समाजवादी इत्र!

 | 
pammi jain

कानपुर के इत्र कारोबारी पीयूष जैन (Piyush Jain) के बाद अब आयकर विभाग (Income Tax) ने पुष्पराज जैन (Pushpraj Jain) उर्फ पम्पी जैन के यहां छापा मारा है। आपको बता दे, वो सपा से MLC भी हैं। उन्होंने 2022 के लिए 22 फूलों से बना समाजवादी इत्र लॉन्च किया था। पीयूष जैन की तरह ही पुष्पराज जैन भी कन्नौज के बड़े इत्र कारोबारी हैं। 

मीडिया रिपोर्ट्स का कहना है कि यूपी में एक साथ 50 जगहों पर इनकम टैक्स की छापेमारी चल रही है। इसमें 7 ठिकाने पुष्पराज के हैं। उसके कन्नौज, कानपुर, नोएडा और हाथरस के ठिकानों पर सर्चिंग जारी है। वहीं, इत्र और गुटखा कारोबार से जुड़े अन्य व्यापारियों के यहां छापा पड़ा है।

pammi jain

आयकर विभाग की टीम शुक्रवार 31 दिसंबर की सुबह 7 बजे पुष्पराज जैन के कन्नौज स्थित घर पहुंची। इन सूत्रों के मुताबिक आयकर विभाग की टीम पुष्पराज जैन के घर, ऑफिस समेत 50 ठीकानों पर कार्रवाई कर रही है। शुरुआती जानकारी में टैक्स चोरी के आरोप में ये छापेमारी करने की बात कही जा रही है। 

कौन हैं पुष्पराज जैन उर्फ पम्पी जैन

पड़ोसियों के मुताबिक, पुष्पराज घर में ही हैं। टीम ने जिस घर पर रेड डाली है, यहां उनका भाई अतुल जैन अपनी फैमिली के साथ रहता है। पुष्पराज की फैमिली मुंबई में रहती है। इनकी कोई संतान नहीं है। कन्नौज में उसके दो घर हैं। कन्नौज के इत्र कारोबारी पुष्पराज जैन उर्फ पंपी की गिनती अखिलेश यादव के करीबियों में की जाती है। 


अखिलेश यादव जब कन्नौज से सांसद बने थे, तभी पंपी उनके संपर्क में आए थे। इसके बाद 2016 के MLC चुनाव में फर्रुखाबाद-इटावा सीट से सपा ने पंपी जैन को उतार दिया और वह जीत गए। बता दें, पीयूष जैन का घर भी इसी छिपट्‌टी मोहल्ले में है, जो पुष्पराज के घर से महज 100 मीटर दूर है। बीते हफ्ते ही आयकर विभाग की छापेमारी में पीयूष जैन के घर से 197 करोड़ रुपये कैश और 23 किलो सोना बरामद किया गया था। 

वह प्रगति अरोमा ऑयल डिस्टिलर्स प्राइवेट लिमिटेड के सहमालिक हैं। उनके पिता सवैललाल जैन ने 1950 में इस बिजनेस की शुरुआत की थी। पुष्पराज का इत्र का बड़ा कारोबार 12 से ज्यादा देशों में फैला है।


2016 में उनके चुनावी हलफनामे के अनुसार, पुष्पराज और उनके परिवार के पास 37.15 करोड़ रुपए की चल संपत्ति और 10.10 करोड़ रुपए की अचल संपत्ति है। उनका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है। कन्नौज के कॉलेज में ही 12 तक पढ़ाई की है।

सपा बोली- भाजपा की बौखलाहट साफ है

पीयूष जैन के यहां छापेमारी के बाद से ही पुष्पराज चर्चा में थे। इसके अलावा एक और इत्र कारोबारी मलिक मियां के ठिकानों पर भी कन्नौज में छापेमारी चल रही है। पिछली बार भी IT विभाग पुष्पराज के ठिकानों पर छापा मारने की तैयारी में था। टीम को P की तलाश थी। लेकिन टीम गलती से P यानी पीयूष जैन के घर पहुंच गई। ऐसा समाजबादी पार्टी ने आरोप लगाया था। 


और अब पम्पी जैन के यहां छापेमारी की खबरें आते ही इस पर सियासत भी शुरू हो गई है। समाजवादी पार्टी की ओर से इस पर प्रतिक्रिया सामने आई है। सपा की ओर से एक ट्वीट कर कहा गया है:-

“अखिलेश यादव जी के कन्नौज में प्रेसवार्ता की घोषणा करते ही भाजपा सरकार ने सपा एमएलसी पम्पी जैन के यहां छापामार कार्यवाही करनी शुरू कर दी। भाजपा का डर और बौखलाहट साफ है, जनता भाजपा को सबक सिखाने के लिए तैयार है!"

आज कन्नौज में ही होनी थी अखिलेश से मुलाकात

अखिलेश यादव आज कन्नौज के दौरे पर जाएंगे। उन्हें यहां एक प्रेस कॉन्फ्रेंस भी करनी है। बताया जा रहा है कि यहां पुष्पराज को भी आना था।