चीखते चिल्लाते रहे पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर, जबरिया उठाकर ले गई यूपी पुलिस...यंहा देखिये Video!

 | 
Amitabh Thakur

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ चुनाव लड़ने का ऐलान करने वाले रिटायर्ड IPS अमिताभ ठाकुर को यूपी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। अमिताभ ठाकुर को पुलिस खींचते हुए ले गई। उनपर रेप के एक मामले में सांसद की मदद का आरोप है। उनकी गिरफ्तारी का एक वीडियो सामने आया है। इसमें वह पुलिस से अरेस्ट वारंट और FIR की कॉपी मांगते दिख रहे हैं। 

पुलिस अमिताभ को घसीटते हुए हजरतगंज थाने ले जा रही है और वह इसका विरोध कर रहे हैं। इसके बाद पुलिस ने बल प्रयोग करते हुए जबरन उन्हें गाड़ी में बैठाया। वंही थाने के अंदर का भी एक वीडियो सामने आया है। इसमें अमिताभ की चीखें सुनाई दे रही हैं। आपको बता दे, गिरफ्तारी के वक्त का वीडियो अब वायरल हो रहा है। 

क्यों हुए अमिताभ ठाकुर गिरफ्तार?

amitabh thakur
Image Source: Viral Video ScreenShot

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अमिताभ ठाकुर पर रेप के आरोपी BSP सांसद अतुल राय का साथ देने का आरोप है। बता दें कि अतुल राय पर रेप का आरोप लगाने वाली महिला ने 16 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट के बाहर अपने दोस्त के साथ मिलकर आत्मदाह करने की कोशिश की थी। इस दौरान रेप पीड़िता और उसके गवाह दोस्त सत्यम राय ने सुप्रीम कोर्ट के बाहर 16 अगस्त को वीडियो बनाकर अमिताभ ठाकुर पर आरोप लगाया था। इलाज के दौरान दोनों की अस्पताल में मौत हो गई थी। 

amitabh thakur
Image Source: Viral Video ScreenShot

सुप्रीम कोर्ट के बाहर आग लगाने वाली पीड़िता के साथ इस मामले का मुख्य गवाह सत्यम ने वीडियो LIVE किया था। इसमें दोनों ने कहा था कि वे सरकारी तंत्र से प्रताड़ित होने के बाद निराश हो चुके हैं।

लाइव वीडियो पर लगाए आरोप 

Amitabh Thakur
Image Source: Viral Video ScreenShot

''सांसद अतुल राय ने अपने रसूख का इस्तेमाल करते हुए उन्हें खूब प्रताड़ित किया। पुलिस और जजों की मिलीभगत से उसे न्याय नहीं मिल पा रहा है। इसी वजह से वह और उसके साथ हुई घटना का गवाह आत्मदाह के लिए मजबूर हुए हैं। पैसों का प्रलोभन छोड़कर भूखे-प्यासे रहकर अतुल राय के खिलाफ कानूनी लड़ाई जारी रखी थी, ताकि कानून और पुलिस व्यवस्था में लोगों का भरोसा बढ़े। अब हम लोग एक नेक्सस में फंस गए हैं। हम लोगों के पास भी अगर राजनीतिक आश्रय होता, तो शायद हमें इस कदर परेशान नहीं होना पड़ता।''

दोनों ने कहा था कि अतुल राय के इशारे पर वाराणसी के पूर्व SSP अमित पाठक, पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर, निलंबित डिप्टी SP अमरेश सिंह बघेल, दरोगा संजय राय और उसके बेटे समेत कुछ जज उनके पीछे पड़े हुए हैं।

अमिताभ ठाकुर की गिरफ्तारी का वायरल वीडियो 


गिरफ्तारी के वक्त का जो वीडियो वायरल हो रहा है उसमें पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर पुलिस गाड़ी में बैठने से इनकार कर रहे हैं। इसके बाद पुलिस ने बल प्रयोग करते हुए जबरन उन्हें गाड़ी में बैठाया। अमिताभ ठाकुर इस दौरान पुलिसवालों से एफआईआर दिखाने की मांग पर कर रहे थे। अमिताभ ठाकुर पर इस खींचतान के बीच पुलिसकर्मी पर हाथ उठाने का भी आरोप लगा है। 

ठाकुर की पत्नी ने सीएम योगी पर लगाए आरोप 

Amitabh Thakur
Image Source: Viral Video ScreenShot

गिरफ्तारी के बाद अमिताभ ठाकुर को मेडिकल के लिए सिविल अस्पताल ले जाया गया। यहां उन्होंने मीडिया से कहा कि सीएम योगी मेरी हत्या करा सकते हैं। मुझे जानबूझकर प्रताड़ित किया जा रहा है। जिस केस से मेरा कोई मतलब नहीं, उसमें मुझे फंसाया जा रहा है। 

दैनिक भास्कर की एक रिपोर्ट के अनुसार, पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर की पत्नी नूतन ठाकुर ने पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि रेप पीड़िता के लाइव वीडियो में दिए गए जिस बयान के आधार पर अमिताभ को गिरफ्तार किया गया है, उसमें सीएम योगी आदित्यनाथ सहित कई न्यायिक और प्रसाशनिक अफसरों पर गंभीर आरोप हैं। उन्होंने सवाल किया कि क्या सभी के खिलाफ केस दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा?

पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने जताया गिरफ्तारी का विरोध 


अमिताभ ठाकुर की गिरफ्तारी को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सहित कई लोगों ने ट्वीट किया है। ट्वीट किए गए वीडियो में अमिताभ ठाकुर को उनके लखनऊ आवास के बाहर जबरन एक पुलिस जीप में ढकेला जा रहा है। ठाकुर ने इसका विरोध किया और जीप के अंदर बैठने से इनकार कर दिया। वह कहते दिखाई दे रहे हैं कि "जब तक आप मुझे प्राथमिकी नहीं दिखाएंगे, मैं नहीं जाऊंगा।"