UP में अब अलीगढ़ होगा हरिगढ़, जानें, किन-किन शहरो के बदले जा सकते है नाम?

 | 
Cm Yogi Adityanath

उत्तर प्रदेश में शहरों के नाम बदलने का सिलसिला जारी है, इलाहाबाद के प्रयागराज बनने के बाद अब अलीगढ़ को हरिगढ़ बनाने की तैयारी चल रही है। वैसे योगी आदित्यनाथ का ये फेवरट एजेंडा रहा है। मुख्यमंत्री बनने से पहले इस मुद्दे को लेकर वे बेहद आक्रामक हुआ करते थे। अलीगढ़ और मैनपुरी का नाम बदलने की तैयारी चल रही है। 

अलीगढ़ का नाम बदलकर हरिगढ़ (Aligarh Name Harigarh) और मैनपुरी का नाम बदलकर मयननगर (Mainpuri Name Mayan Nagar) किए जाने का प्रस्ताव सरकार को भेजा गया है। इसी क्रम में  नवगठित जिला पंचायत बोर्ड की बैठक में जिला पंचायत सदस्य केहरी सिंह और उमेश यादव ने अलीगढ़ का नाम हरिगढ़ करने का प्रस्ताव दिया।

यूपी में सरपट दौड़ रही नाम बदलो राजनीती 

Aligarh

योगी सरकार पहले ही इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज और फ़ैज़ाबाद का अयोध्या कर चुकी है। बीजेपी और हिंदूवादी संगठन लखनऊ, ग़ाज़ियाबाद और देवबंद का भी नाम बदलने की मांग कर रहे हैं। इसके अलावा मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम दीन दयाल उपाध्याय कर दिया गया जबकि झांसी को रानी लक्ष्मी बाई स्टेशन करने का प्रस्ताव है। 

नाम में क्या रखा है? ऐसा लोग कहते हैं!

अलीगढ़ का भी नाम बदलने की चर्चा है। तालों के लिए मशहूर इस ज़िले में ज़िला पंचायत बोर्ड की इमरजेंसी बैठक हुई। इस मीटिंग में अलीगढ़ का नाम हरिगढ़ करने का प्रस्ताव पेश हुआ। ज़िला पंचायत की अध्यक्ष अर्चना भदौरिया ने प्रस्ताव पास करा लिया। उनका कहना है कि पहले भी अलीगढ़ का नाम हरिगढ़ ही था। 

बीजेपी के लोग फ़िरोज़ाबाद का नाम चंद्रनगर करना चाहते हैं। कांच की चूड़ियों के लिए मशहूर फ़िरोज़ाबाद में ज़िला पंचायत बोर्ड की बैठक में इस बात का प्रस्ताव पास भी हो गया है। अगर राज्य सरकार द्वारा नाम बदले के प्रस्ताव पर मुहर लग जाती है तो मैनपुरी और अलीगढ़ का नाम बदल जाएगा। अब इसपर आखिरी फैसला राज्य सरकार को ही लेना है। 

हिंदू वादी संगठन चाहते हैं कि देवबंद का नाम देववृन्द हो जाए। लखनऊ का नाम लखनपुरी करने के लिए भी डिमांड होती रही है। ग़ाज़ियाबाद का नाम भी इस लिस्ट में है। बीजेपी और उससे जुड़े संगठनों को लगता है कि नाम बदल देने से उनके एजेंडे को धार मिलेगी।