गौतम गंभीर को जान से मारने की धमकी देने वाले पता चल गया, हुआ ये बड़ा खुलासा

 | 
gautam gambhir

पूर्व क्रिकेटर और भारतीय जनता पार्टी के सांसद गौतम गंभीर को जो जिस ईमेल के जरिए जान से मारने की धमकी मिली थी, वो पाकिस्तान से आया था। रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली पुलिस ने इस शख्स का नाम शाहिद हमीद बताया है। उसी के नाम के अकाउंट से गौतम गंभीर को धमकी भरा मेल किया गया था। आरोपी की पहचान के बाद पुलिस आगे की जांच में जुट गई है। 

पाकिस्तान से भेजा गया था ई-मेल

गौतम गंभीर ने आरोप लगाया था कि उन्हें ISIS कश्मीर से जान से मारने की धमकी मिली है। बताया जा रहा है कि दिल्ली पुलिस ने Google से जानकारी मांगी थी. Google ने जो जानकारी दी है, उसके मुताबिक गौतम गंभीर को धमकी भरा ईमेल पाकिस्तान से भेजा गया था। आईपी एड्रेस भी पाकिस्तान का ही मिला है। 

इसके साथ ही मेल भेजने वाले शख्स की पहचान भी हो गई है। बताया जा रहा है कि गंभीर को शाहिद हमीद नाम के अकाउंट से ये मेल भेजा गया था। इससे पहले आई मीडिया रिपोर्टों में बताया गया था कि गौतम गंभीर को मेल के जरिये जान से मारने की धमकी दी गई है- एक नहीं, बल्कि दो बार। 

दो बार धमकी मिली गौतम गंभीर को 

गौतम गंभीर के निजी सचिव गौरव अरोड़ा ने बताया कि सांसद को पहली धमकी मंगलवार रात 9:26 बजे उनकी ईमेल आइडी पर मिली थी। गौरव अरोड़ा का कहना है कि इस ई-मेल एस आई धमकी में एक लाइन लिखी हुई थी- 'हम तुम्हें और तुम्हारे परिवार को जान से मार देंगे।'

gautam gambhir

इसी बीच बुधवार दोपहर 2:32 बजे दूसरी बार धमकी आ गई। इसमें गौतम गंभीर के घर का छह सेकेंड का वीडियो भी था। इसमें भेजने वाले ने अंग्रेजी में लिखा कि हम तुम्हें मारना चाहते थे लेकिन कल तुम बच गए। अगर तुम अपने परिवार की जिंदगी से प्यार करते हो तो राजनीति और कश्मीर मुद्दे से दूर रहो।

मिली जानकारी के मुताबिक ये दोनों ईमेल ISISI Kashmir नाम के संगठन द्वारा भेजे गए थे। मेल में गंभीर के घर के बाहर का वीडियो भी अटैच था। ऐसे में पुलिस ने मामले को गंभीरता से लिया। मेल को लेकर गौतम गंभीर ने दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। इसके बाद पुलिस हरकत में आई और गूगल से संपर्क कर ईमेल की डिटेल्स मंगवाईं। इसके साथ ही पुलिस ने कई अहम खुलासे किए हैं। 

पाकिस्तान के खिलाफ़ आक्रामक रहे हैं गंभीर!

BJP के सांसद के तौर पर गौतम गंभीर राष्ट्रवादी मुद्दों पर खुलकर बोलते रहे हैं।  भारत के खिलाफ बोलने वालों को वो ट्विटर पर करारा जवाब देते हैं। हाल ही में गंभीर ने नवजोत सिंह सिद्धू पर बिना नाम लिए हमला बोला था। पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष सिद्धू ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को अपना बड़ा भाई बताया था। इसके जवाब में गंभीर ने लिखा:-

“अपने बेटे या बेटी को बॉर्डर पर लड़ने के लिए भेजें उसके बाद किसी दुश्मन देश के मुखिया को अपना बड़ा भाई बताएं।”


बहरहाल, दिल्ली पुलिस को पता चला है कि धमकी भरे मेल में गौतम गंभीर के घर के बाहर का जो वीडियो भेजा गया, उसे उनकी कोठी के सामने बने पार्क से बनाया गया था। अब देखना ये होगा कि दिल्ली पुलिस इस मामले में क्या आगे की कार्यबाही करती है।